India Shayari

20210919 220118

[150+ Latest] Khuda Shayari In Hindi | Khuda Par Shayari | खुदा शायरी

Hello, Friends Are You Looking For Khuda Shayari. So Today We Have Brought the Best Collection Of Khuda Par Shayari. This Collection Contains Various Types Of Shayari Like Khuda Status, Aye Khuda Shayari, Sad Khuda Shayari, Khuda Shayari In Hindi, Khuda Shayari 2 Lines Etc. Also, Share These With Your Friends.

Khuda Shayari

Khuda Shayari

कुछ तुम,कुछ तुम्हारा अंदाज़ ए गुफ्तगू,
मुझे तबाह कौन करेगा, खुदा ही जाने


Duniya Se Dil Lagakar Duniya Se Kya Milega,
Yaad-e-Khuda Kiye Ja Tujh Ko Khuda Milega,
Daulat Ho Ya Hukoomat Taqat Ho Ya Jawani,
Har Cheez Mitne Wali Har Cheez Aani Jaani.

दुनिया से दिल लगाकर दुनिया से क्या मिलेगा,
याद-ए-खुदा किये जा तुझ को खुदा मिलेगा,
दौलत हो या हुकूमत ताक़त हो या जवानी,
हर चीज़ मिटने वाली हर चीज़ आनी जानी।


Khuda Se Pyara Koi Naam Nahi Hota,
Uski Ibadat Se Bada Koi Kaam Nahi Hota,
Duniya Ki Mohabbat Me Hai Ruswaiya Badi,
Par Uski Mohabbat Me Koi Badnam Nahi Hota.

खुदा से प्यारा कोई नाम नहीं होता,
उसकी इबादत से बड़ा कोई काम नहीं होता,
दुनिया की मोहब्बत में है रुसवाईयां बड़ी,
पर उसकी मोहब्बत में कोई बदनाम नहीं होता।


Tere Aazaad Bando Ki
Na Ye Duniya Na Wo Duniya,
Yehan Marne Ki Pabandi,
Wahan Jeene Ki Pabandi.

तेरे आजाद बन्दों की
न ये दुनिया न वो दुनिया,
यहाँ मरने की पाबन्दी,
वहाँ जीने की पाबन्दी


Hume Is Chist Se Ummid Kya Thi Aur Kya Nikla,
Kahan Jana Hua Tha Tay Kahan Se Rasta Nikla,
Khuda Jinko Samajhte The Wo Sheesha The Na Pathar The,
Jise Pathar Samjhte The Bahi Apna Khuda Nikla.

हमें इस चिस्त से उम्मीद क्या थी और क्या निकला,
कहाँ जाना हुआ था तय कहाँ से रास्ता निकला,
खुदा जिनको समझते थे वो शीशा थे न पत्थर थे,
जिसे पत्थर समझते थे वही अपना खुदा निकला


Kashish Toh Bahut Hai Mere Pyar Mai,
Lekin Koi Hai Pathar Dil Jo Pigalta Nahi,
Agar Mile Khuda To Mangungi Usko,
Suna Hai Khuda Marne Se Pehle Milte Nahi.

कशिश तो बहुत है मेरे प्यार मैं,
लेकिन कोई है पत्थर दिल जो पिघलता नहीं,
अगर मिले खुदा तो माँगूंगी उसको,
सुना है ख़ुदा मरने से पहले मिलते नहीं


Khuda Ka Matlab Hai Khud Me Aa Tu,
Khud Aagahi Hai Khuda Shanaasi,
Khuda Ko Khud Se Juda Samajh Kar
Bhatak Raha Hai Idhar Udhar Kyon.

खुदा का मतलब है खुद में आ तू,
खुद आगाही है खुदा शनासी,
खुदा को खुद से जुदा समझ कर,
भटक रहा है इधर उधर क्यूँ।


वो पहले सा कहीं, मुझको कोई मंज़र नहीं लगता
यहाँ लोगों को देखो, अब ख़ुदा का डर नहीं लगता

Wo pahale sa kahi, mujhko koi manzar nahin lagata
Yahan logon ko dekho, ab khuda ka dar nahi lagata


ज़रुरत भर का तो खुदा, सबको देता है
परेशां है लोग इस वास्ते कि, बेपनाह मिले

Jarurrat bhar ka to khuda, sabko deta hai
Pareshan hai log is waste ki, bepanaah mile


इतना आसान नहीं खुदा की इबादत करना
दिल से गुरुर जायेगा तभी तो नूर आयेगा

Itna aasan nahi khuda ki ibaadat karna
Dil se gurur jayega tabhi to noor aayega


जब सफ़ीना मौज से टकरा गया
नाख़ुदा को भी ख़ुदा याद आ गया

Jab safeena mauj se takra gaya
Nakhuda ko bhi khuda yaad aa gaya


अच्छा यक़ीं नहीं है तो कश्ती डुबा के देख
इक तू ही नाख़ुदा नहीं ज़ालिम ख़ुदा भी है

Accha yaqeen nahi hai to kashti dooba ke dekh
Ik tu hi nakhuda nhi zalim khuda bhi hai


Khuda Par Shayari

Khuda Par Shayari

इतना आसान नहीं खुदा की इबादत करना,
दिल से गुरुर जायेगा तभी तो नूर आयेगा.


साजिशे उस खुदा की देखो तो जरा,
मुझे खुश देखकर “मोहब्बत” में फसा दिया.


छोड़ देंगे तेरी दुनिया को एक रोज ए खुदा,
जख्म दे दे कर किराये की जिन्दगी का अहसास ना दिला.


कितने अजीब इंसान है तेरी दुनिया मेँ ऐ खुदा,
शौक ऐ मोहब्बत भी रखते है और याद तक नहीँ करते.


आज फिर से छाए हैं उनकी रहमत के बादल
किस्मत में भीगना लिखा है या तरसना खुदा जाने.


मेरा हौंसला जमाने से जुदा है,
मैं क्यों डरूं जब मुझमें खुदा हैं.


खुदा ने सब्र करने की तौफ़ीक़ हमें बख्शी है
अरे जी भर के तड़पाओ शिकायत कौन करता है


इश्क ‘महसूस’ करना भी इबादत से कम नहीं,
ज़रा बताइये छू कर’ खुदा को किसने देखा है?


मसरूफ़ थे सब अपनी ज़िन्दगी की उलझनों में,
जरा सी ज़मीन हिली, सबको खुदा याद आने लगा.


कमाल का हौसला दिया है, खुदा ने हम इंसानोँ को,
वाकिफ़ हम अगले पल से नहीँ, और वादेँ जन्मोँ के कर लेते है.


मशगुल थे सब अपनी ज़िन्दगी में,

ज़रा सी जमीन क्या हिली सबको खुदा याद आ गया.


Latest 2021 Khuda Shayari

Latest 2021 Khuda Shayari

वही रखेगा मेरे घर को बलाओं से महफूज़,
जो सजर से घोंसला गिरने नहीं देता


खुदा जाने तुमने किस अन्दाजे-नजर से देखा है
कि मुझको जिन्दगी अब जिन्दगी मालूम होती है.


कुछ लोग सारी जिंदगी इंसान नही बन पाते,
और कुछ लोग मयखाने से खुदा बनकर निकलते हैं.


कभी जो मुझे हक मिला अपनी तकदीर लिखने का,
कसम खुदा की तेरा नाम लिखूंगा और कलम तोड दूंगा.


खुदा ने लिखा ही नहीं तुझको मेरी क़िस्मत में शायद,
वरना खोया तो बहुत कुछ था एक तुझे पाने के लिए.


तेरा ज़िक्र..तेरी फ़िक्र..तेरा एहसास..तेरा ख्याल,
तू खुदा तो नहीं..फिर हर जगह क्यों है.


मेरा झुकना और तेरा खुदा हो जाना,
अच्छा नही इतना बड़ा हो जाना.


जोड़ी भी खूब बनाई थी उस खुदा ने,
वो मासूम सी लड़की और मैं शायर बदनाम.


हर किसी को नही देता वो मोहब्बत का हुनर,
खुदा नही चाहता हर किसी का खुदा होना.


ए खुदा अगर तेरे पेन की श्याही खत्म है,
तो मेरा लहू लेले, यू कहानिया अधूरी न लिखा कर.


यंकी का कोई अलग से खुदा नही होता,
झूठ के लिए रियायते भी लड़ जाती है.


आप मेरे नहीं है

ए अलग बात है रब से मांगू तो मांगने दीजिए


ना जाने कैसे परखता है मुझे मेरा खुदा
इम्तिहान भी सख्त लेता है ओर मुझे हारने भी नहीं देता


फुर्सत नहीं है इंसान को घर से मंदिर तक आने की
और ख्वाहिश रखता है शमशान से सीधा स्वर्ग जाने की


सब्र इतना रखो की इश्क़ बेहूदा ना बने
खुदा मेहबूब बन जाए पर महबूब खुदा ना बने


नसीब में कुछ रिश्ते अधूरे लिखे होते हैं
लेकिन उन की यादें बहुत खूबसूरत होती है


खूबसूरत रिश्ता है मेरे और खुदा के बीच
ज्यादा हम मांगते नहीं और कम वह देता नहीं


Heart Touching Khuda Par Shayari

Heart Touching Khuda Par Shayari

सौदागरी नहीं ये इबादत खुदा की है,
ऐ बे-खबर जीजा की तमन्ना भी छोढ़ दे।


ख़ुदा से माँग जो कुछ माँगना है ऐ ‘अकबर’
यही वो दर है कि ज़िल्लत नहीं सवाल के बाद


जो चाहिए सो माँगिये अल्लाह से ‘अमीर’
उस दर पे आबरू नहीं जाती सवाल से


जब सफ़ीना मौज से टकरा गया
नाख़ुदा को भी ख़ुदा याद आ गया


कश्तियाँ सब की किनारे पे पहुँच जाती हैं
नाख़ुदा जिन का नहीं उन का ख़ुदा होता है


ऐ ख़ुदा मेरी रगों में दौड़ जा
शाख़-ए-दिल पर इक हरी पत्ती निकाल


तुम थक तो नहीं जाओगे इन्तजार में तब तक,
मैं माँग के आऊँ खुदा से तुमको जब तक.


खुदा के पास देने के तो हजार तरीके है,
मांगने वाले तू देख तुझ में कितने सलीके है.


आशिक़ी से मिलेगा ऐ ज़ाहिद,
बंदगी से ख़ुदा नहीं मिलता.


जुबानी इबादत ही काफी नहीं,
खुदा’ सुन रहा है खयालात भी.


ऐ आसमान तेरे ख़ुदा का नहीं है ख़ौफ़,
डरते हैं ऐ ज़मीन तेरे आदमी से हम.


फकीर मिजाज़ हूं मैं अपना अंदाज औरो से जुदा रखता हूं
लोग जाते है मंदिर मस्ज़िद में अपने दिल में खुदा रखता हूं


पूजा था जिसको वो खुदा ना बन सका
इबादत करते करते हम फ़कीर बन गए


जो भी सीखा है सब भुलाना है
खोज तो खुद की है खुदा तो बहाना है


इश्क न हुआ कोहरा हो जैसे
तुम्हारे सिवा कुछ भी दिखता ही नहीं


नहीं बदल सके हम खुद को औरों के हिसाब से
एक लिबास मुझे भी दिया है खुदा ने अपने हिसाब से


Khuda Shayari 2 Lines

Khuda Shayari 2 Lines

लाख ढूंढें गौहर-ए-मक़सूद मिल सकता नहीं,
हुक्म गर तेरा न हो पत्ता भी हिल सकता नहीं।


मत सोचना मेरी जान से जुदा है तू,
हकीकत में मेरे दिल का खुदा है तू.

Mat Dekh Meri Jaan Se Juda Hai Tu,
Hakikat Me Mere Dil Ka Khuda Hai Tu.


नीचे आ गिरती है हर बार दुआ मेरी,
पता नहीं कितनी ऊचाई पर खुदा रहता हैं.

Niche Aa Girti Hai Har Baar Dua Meri,
Pata Nahi Kitani Uchaayi Par Khuda Rahta Hai.


मैंने अपने आप को हँमेशा बादशाह समझा,
पर तुझे खुदा से माँगा अकसर फकीरों की तरह.

Maine Apane Aap Ko Hamesha Baadshah Camjha,
Par Tujhe Khuda Se Manga Aksar Fakiro Kio Tarah.


ख़ुदा ऐसे एहसास का नाम है,
रहे सामने और दिखाई न दे.

Khuda Aise Ahsaas Ka Naam Hai,
Rahe Samne Aur Dikhayi Na De.


न था कोई हमारा न हम किसी के हैं,
बस एक खुदा है और हम उसी के हैं.

na Tha Koi Hamara Na Ham Kisi Ke The,
Bas Ek Khuda Hai Aur Ham Usi Ke Hai.


माँ ने रख दी आखिरी रोटी भी मेरी थाली मे,
मैं पागल फिर भी खुदा की तलाश करता हूँ.

Maa Ne Rakh Di Aakhiri Roti Bhi Meri Thali Me,
Mai Pagal Fir Bhi Khuda Ki Talash Karta Hu.


उस वक़्त तो खुदा भी सोच में पड़ गया,
जब मैंने इश्क़ और सुकून दोनों साथ में माँग लिया.

Us Waqt To Khuda Bhi Soch Me Pad Gaya,
Jab Maine Ishq Aur Sukun Dono Sath Me Maang Liya.


जहर पीने से कहाँ मौत आती है,
मर्जी खुदा की भी चाहिए मौत के लिए ?

Zahar Pine Se Kaha Maut Aati Hai
Marzi Khuda Ki Bhi Chahiye Maut Ke Liye ?


हवा खिलाफ थी लेकिन चिराग भी खूब जला,
खुदा भी अपने होने का क्या क्या सबूत देता है.

Hawa Khulaaf Thi Lekin Chirag Bhi Khoob Jala,
Khuda Bhi Apane Hone Ka Kya Kya Sabut Deta Hai.


ख़ुदा की इतनी बड़ी काएनात में मैंने,
बस एक शख़्स को माँगा मुझे वही न मिला.

Khuda Ki Itani Badi Kaaynaat Me Maine,
Bas Ek Shakhs Ko Manga Mujhe Vahi Nahi Mila.


Aye Khuda Shayari

Aye Khuda Shayari

लौट आती है हर बार दुआ मेरी खाली,
जाने कितनी ऊंचाई पर खुदा रहता है।


mit jae gunaahon ka tasavvur hee jahaan se,
agar ho jaaye yakeen ke khuda dekh raha hai.


मिट जाए गुनाहों का तसव्वुर ही जहाँ से,
अगर हो जाये यकीन के खुदा देख रहा है।


mohabbat kar sakate ho to khuda se karo,
mitatee ke khilaunon se kabhee vafa nahin milatee.


मोहब्बत कर सकते हो तो खुदा से करो,
मिटटी के खिलौनों से कभी वफ़ा नहीं मिलती।


khuda toone to laakhon kee takdeer sanvaaree hai,
mujhe tasallee to de ke ab meree baaree hai.


खुदा तूने तो लाखों की तकदीर संवारी है,
मुझे तसल्ली तो दे के अब मेरी बारी है।


Khuda ki inayat hai,
jo hme milaya h,
Mgr hm ab tk sath hai ye Mohabbat hai, hmari.


खुदा की इनायत है,
जो हमे मिलया है,
मगर हम अब तक साथ है ये मोहब्बत है, हमारी।


maja chakh lene do use gairo kee,
mohabbat ka bhee,
itanee chaahat ke baad jo mera na hua,
to khuda vo oro ka kya hoga.


मजा चख लेने दो उसे गैरो की,
मोहब्बत का भी,
इतनी चाहत के बाद जो मेरा न हुआ,
तो खुदा वो ओरो का क्या होगा।


kahate hain log khuda kee ibaadat hai,
ye meree samajh mein to ek jahaalat hai,
chain na aae dil ko , raat jaag ke gujareh,
jay batao doston kya yahee mohabbat hai.


कहते हैं लोग खुदा की इबादत है,
ये मेरी समझ में तो एक जहालत है,
चैन न आए दिल को , रात जाग के गुजरे,
जय बताओ दोस्तों क्या यही मोहब्बत है!


Mujhe zarurat nahi įnsaan ki,
jo maltab ke liye sath ho,
Mein khush hoon apne “khuda” ke sath,
jo bina matlab ke mere sath hai.


मुझे जरूरत नहीं इंसानों की,
जो मतलब के लिए साथ हो,
मैं खुश हूं अपने खुदा के साथ,
जो बिना मतलब के मेरे साथ है।


khuda kee rahamat mein ajiyaan nahin chalateen,
dilon ke khel mein khudagarajiyaan nahin chalatee,
chal hee pade hain to ye jaan leejie hujur,
ishq kee raah mein manamarajiyaan nahin chalateen!


खुदा की रहमत में अजियाँ नहीं चलतीं,
दिलों के खेल में खुदगरजियाँ नहीं चलती,
चल ही पड़े हैं तो ये जान लीजिए हुजुर,
इश्क़ की राह में मनमरजियाँ नहीं चलतीं!


ya mere khuda apani zamaanat,
mein meree amaanat rakhana,
mai salaamat rahoon ya na rahoo,
meri mohabbat ko salaamat rahana


या मेरे खुदा अपनी ज़मानत,
में मेरी अमानत रखना,
मै सलामत रहूँ या न रहू,
मेरी मोहब्बत को सलामत रहना


kaanton par chalakar phool khilate hain,
vishvaas par chalakar bhagavaan milate hain,
ek baat sadaa yaad rakhana dost,
sukh mein sab milate hai,

lekin dukh mein sirph bhagavaan milate. hai .


काँटों पर चलकर फूल खिलते हैं,
विश्वास पर चलकर भगवान मिलते हैं,
एक बात सदा याद रखना दोस्त !!
सुख में सब मिलते है,
लेकिन दुख में सिर्फ भगवान मिलते है।


मैं तेरे प्यार में इतना ग़ुम होने लगा हूँ सनम,
जहाँ भी जाऊं बस तुम्हें ही सामने पाने लगा हूँ,
हालात यह हैं कि हर चेहरे में तू ही तू दिखता है,
ऐ मेरे खुदा अब तो मैं खुद को भी भुलने लगा हूँ।

Main Tere Pyar Mein Itna Gum Hone Laga Hun Sanam,
Jahan Bhi Jaaun Bas Tumhen Hi Samane Pane Laga Hun,
Halaat Yah Hain Ki Har Chehre Mein Tu Hi Tu Dikhta Hai,
Ai Mere Khuda Ab To Main Khud Ko Bhi Bhulane Laga Hun.


जब कोई ज़िन्दगी में बहुत ख़ास बन जाए,
उसके बारे में सोचना ही उसका एहसास बन जाए,
तो मांग लेना खुदा से उसे जिंदगी भर के लिए,
इस से पहले की उसकी माँ किसी और की सास बन जाए।

Jab Koyi Zindagi Mein Bahut Khaas Ban Jaye,
Uske Baare Mein Sochna Hi Uska Ehsaas Ban Jaye,
To Maang Lena Khuda Se Use Zindagi Bhar Ke Liye,
Ise Se Pahle Ki Uski Maa Kisi Aur Ki Saas Ban Jaye.


लोग कहते हैं उसको खुदा की इबादत है,
ये मेरी समझ में तो एक जहालत है,
रात जाग के गुजरे, दिल को चैन न आए,
जरा बताओ दोस्तों क्या यही मोहब्बत है।

Log Kahte Hain Usko Khuda Ki Ibaadat Hai,
Ye Meri Samajh Mein To Ek Jahalat Hai,
Raat Jaag Ke Gujre, Dil Ko Chain Na Aaye,
Jara Batao Doston Kya Yahi Mohabbat Hai.


ऐ खुदा आज कुछ तो रहम करदे,
मेरे दोस्त आज नहीं रह पाएंगे,
लगवा दे इन्हें किसी लड़की के हाथो रंग,
कमीने पूरे साल नहीं नहायेंगे।

Aye Khuda Aaj To Raham Kar De,
Mere Dost Aaj Nahi Rah Payenge,
Lagwa De Kisi Ladki Ke Haatho Inhe Rang,
Ye Kamine Pure Saal Nhi Nahayenge


Other Posts :-

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *