India Shayari

20210610 163431 1

75+ Best Gussa Shayari Collection | गुस्सा शायरी इन हिंदी

कई बार हम गुस्से के मूड में होते हैं। लेकिन यह बहुत अच्छा अहसास होता है जब हमारा गुस्सा प्यार से भरा होता है। यह आमतौर पर हमारे प्रियजनों के साथ होता है। हम उन पर आसानी से गुस्सा हो जाते हैं और वे अपनी बातों और उपहारों से हमें समझाने की कोशिश करते हैं। इस छोटे से गुस्से से हमारा प्यार और गहरा होता है और हमारे रिश्तों को मजबूत बनाता है। तो आज हम लेकर आए हैं गुस्सा पर कुछ शरारती गुसा शायरी और शायरी। अपने रिश्ते को मजबूत बनाने के लिए इसे अपने शरारती साथी के साथ साझा करें।

Many Times We Are In A Angry Mood. But It’s A Great Feeling When Our Anger Is Full Of Love. This Generally Happens With Our Loved Ones. We Get Easily Angry On Them And They Try To Convince Us By Their Talk And Gifts. Due To This Small Anger Our Love Becomes Deeper And Makes our relationships strong. So Today We Have Brought Some Naughty Gussa Shayari And Shayari On Gussa. Share It With Your Naughty Partner To Make Your Relationship Strong.

Naughty Shayari on Gussa

 

Naughty Shayari on Gussa

आज दिल कर रहा था बच्चों की तरह रूठ ही जाऊ
पर फिर सोचा क्या फायदा मनाएगा कौन


नाराजगी उतनी ही जाहिर करो
जितना कसूर है मेरा,
ज्यादा प्यार और गुस्से से रिश्ते
टुटते है।


प्यार इतना कि मुझे पाने को हर वक्त खुदा से इबादत किया करती थी,
और गुस्सा इतना कि मुझसे लिपटकर मेरी शिकायत किया करती थी।


कभी कभी इंसान गुस्से में ही सही,
कुछ कुछ सच बयान कर ही देता हैं,
वो सच जो वो खुद से भी छिपाता फिरता है।


रिश्तों में मिठास लाने के लिए
कई ज़हर पिये है मैंने भी,
इसलिए लोग पूछते है
अब गुस्सा क्यों नही आता मुझे।


गुस्से का कोई इलाज नहीं,
चाहे दोस्ती हो या हो प्यार
सब उजाड़ ही देती है।


लड़ते बहुत है,
गुस्सा भी बहुत है,
मगर गुस्सा बाहर से है,
मोहब्बत अंदर से है।


Heart touching Gussa Shayari

Heart touching Gussa Shayari

किस बात पर गुस्सा है,
ये पूछने वाला हो तो,
मुस्कान क़भी नहीं जाती।


तुझे गुस्सा दिलाना एक साजिश है मेरी
तेरा रूठ कर मुझपर यु हक़ जताना अच्छा लगता है


छोटी छोटी बातें दिल में रखने से.
बड़े बड़े रिश्ते कमजोर हो जाते हैं

तुम्हे गुस्सा करने का हक़ है मुझ पर नाराजगी में,
ये मत भूल जाना कि हम बहुत प्यार करते है तुमसे.


ज़िन्दगी की राहों में आपको कभी न छोड़ूंगा,
ये मासूम सा दिल आपका कभी न तोड़ूंगा,
चाहे हो जाओ कितना भी गुस्सा हमसे,
फिर भी आपसे कभी मुंह न मरूंगा…


नाराज मत हुआ करो कुछ अच्छा नहीं लगता है,
तेरे हसीन चेहरे पर यह गुस्सा नहीं सजता है,
हो जाती है कभी कभी गलती माफ कर दिया करो,
चाहने वालों से बेदर्दी यह नुस्खा नहीं जचता है


नाराज क्यूँ होते हो किस बात पे हो रूठे,
अच्छा चलो ये माना तुम सच्चे हम ही झूठे,
कब तक छुपाओगे तुम हमसे हो प्यार करते,
गुस्से का है बहाना दिल में हो हम पे मरते


Relationship Shayari on Gussa

Relationship Shayari on Gussa

हमारा रूठना-मनाना तो लगा रहता है ,
हमारी आंखों में प्यार,
उनके चेहरे पर गुस्सा तो सदा रहता है।


जैसे बिन बादल बरसात नहीं होती
जैसे बिन चाँद कभी रात नहीं होती
ऐसे ही गुस्सा छोड़ो मेरी जान
क्योंकि मरने के बाद बात नहीं होती


प्यार लफ़्ज़ों में नहीं होता
दिल में होता है
और गुस्सा लफ़्ज़ों में होता है
दिल मे नहीं


मुझे तेरे गुस्से से डर नहीं लगता
तेरा गुस्सा में झेल लेती हूँ
हाँ, दिल तो दुखता है तेरे गुस्से से
लेकिन तुझे खोने के डर से चुप रहती


ना दिल के बुरे हैं हम
ना कोई आदत बुरी है
बस गुस्सा ही रोक नहीं पाते
तुमसे दूर रहने की यही मजबूरी है


बात बात पर तू नाराज़ हो जाता है
और फिर कहता है कि मुझे बहुत चाहता है
गुस्सा तो मुझे भी तुम पर बहुत आता है
पर तेरा चेहरा देखते ही चला जाता है


उसके गुस्से पर भी हमें प्यार आता है
और हम यह सोच कर मुस्करा दिया करते हैं
की कोई तो है जो हम पर अपना हक जताता है


Love And Gussa Shayari

Love And Gussa Shayari

उसका गुस्सा और मेरा प्यार एक जैसा है,
क्योंकि ना तो उसका गुस्सा कम होता हैं,
और ना ही मेरा प्यार।


Zaruri To Nahi Zubaan Se Kahe Dil Ki Baat
Zubaan Ek Aur Bhi Hoti Hai Izhaar Mohabbat Ki
ज़रूरी तो नहीं जुबां से कहे दिल की बात
जुबां एक और भी होती है इज़हार मोहब्बत की


Na Tol Meri Mohabbat Ko Apni Dillagi Se
Dekh Akr Aksar Meri Mohabbat Ko Tarazu Toot Jate Hai
ना तोल मेरी मोहब्बत को अपनी दिल्लगी से
देख आकर अक्सर मेरी मोहब्बत को तराजू टूट जाते है


Safar Main Koi Dubara Nahi Mil Sakta
Ab Dubara Teri Chahat Nahi Ki Ja Sakti
सफ़र मैं कोई दुबारा नहीं मिल सकता
अब दुबारा तेरी चाहत नहीं की जा सकती


गुस्से में जो छोड़ जाये वो वापस आ सकता है ,
मुस्कुराकर छोड़कर जाने वाला कभी वापस नही आता


मोहब्बत में गुस्सा वही करता है ,
जिसमें मोहब्बत कूट-कूट के भरी होती है ।


आपके प्यार की कद्र कोई पराया भी करेगा ,
लेकिन आपके गुस्से की कद्र केवल अपने ही करेंगे


Deep Love Shayari on Gussa

Deep Love Shayari on Gussa

गुस्सा कर लो चाहे जितना पर नफरत मुझसे मत करना.
क्योंकि गुस्सा करोगे तो मनाऊँगा नफरत करोगे तो बिखर जाऊँगा.


वैसे तो बहुत अच्छा हूं मै ,
सिर्फ गुस्सा ना आने तक


कभी अपने सम्मान को आंकना हो तो बेवजह गुस्सा कर के देख लेना


आपका गुस्सा आपके चरित्र को परिभाषित करता है ,
देखना ये है की आपको किन चीजो पर गुस्सा आता है ।


तुम्हारा गुस्सा भी इतना प्यारा है कि
दिल करता है तुम्हे दिन भर तंग करते रहे


गुस्सा बहुत चतुर होता है,
अक्सर कमजोर पर भी निकलता है.


जब-जब इंसान को गुस्सा आता है,
तब-तब उसकी कमजोरी का एहसास दिलाता है.


Related Posts :-

Ishq Shayari


Miss You Shayari


Kismat Shayari


Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *