India Shayari

{ 61+} 2022 गणतंत्र दिवस शायरी | 26 january Shayari In Hindi

 

26 जनवरी शायरी हिंदी में

26 जनवरी शायरी हिंदी में

ये आन तिरंगा है, ये शान तिरंगा है,
अरमान तिरंगा है, अभिमान तिरंगा है,
मेरी जान तिंरगा है.


वतन Hamara ऐसा कोई ना छोड़ पाये,
रिश्ता Hamara ऐसा कोई न तोड़ पाये,
दिल एक है जान एक है Humari
हिन्दुस्तान Hamara है यह शान हैं Humारी.


असली गणतन्त्र तभी बनता है
जब सविधान से निकलकर आम
लोगों की जिन्दगी में शामिल हो जाए
आओ कुछ ऐसा कर दिखाएँ की सब को
Hum पर मान हो जाए.


आज सलाम है उन वीरो को
जिनके कारण ये दिन आता है,
वो माँ खुशनसीब होती है
बलिदान जिनके बच्चो का
देश के काम आता है.


इंडियन होने पर करिए गर्व,
मिलके मनाएं लोकतंत्र का पर्व,
देश के दुश्मनों को मिलके हराओ,
घर घर पर तिरंगा लहराओ.


ना हिन्दू बन, ना मुस्लिम,
न भ्रष्टाचार का गुलाम,
बस एक इंसान बन
कुछ ऐसे कर्म कर,
कि Khud से कोई शर्म ना हो..


2022 गणतंत्र दिवस शायरी हिंदी

2022 गणतंत्र दिवस शायरी हिंदी

देश भक्तो के बलिदान से स्वतंत्र हुए है Hum,
कोई पूछे कोन हो तो गर्व से कहेंगे, भारतीय है Hum.


भारत Humको जान से प्यारा है,

सबसे न्यारा गुलिस्ताँ Hamara है।


भारत के गणतंत्र का सारे जग में मान,

वर्षों से खिल रही इसकी अद्भुत शान,
सब Dharam को देकर मान, रच दिया इतिहास,

इसीलिए हर देशवासी को इसमें है विश्वाश।


अजेय हैं वो सैनिक जो Humesha अपने राष्ट्र के प्रति वफादार रहते हैं,

जो Humesha अपने जीवन का बलिदान करने के लिए तैयार रहते हैं।


Premi, कवि और पागल एक ही चीज़ से बने होते हैं।

क्योंकि लोग अक्सर Deshpremi को पागल कहते है।


इंडियन होने पर करिए गर्व, मिलकर मनाएं लोकतंत्र का पर्व,
देश के दुश्मनों को मिलकर हराओ, घर घर पर तिरंगा लहराओ।


गणतंत्र दिवस शायरी 2022

गणतंत्र दिवस शायरी 2022

ना पूछो जमाने से कि Kya Humari कहानी है,
Humारी पहचान तो बस इतनी है कि Hum सब
हिन्दुस्तानी हैं!


Hum हाथ मिलाना भी जानते है
और हाथ उखाड़ना भी
Hum गांधी जी को भी पूजते है
और चंद्रशेखर आज़ाद को भी.


मेरे देश का मान Humesha बनाये रखूँगा
दिल तो Kya जान भी इस पर न्योछावर करूँगा
अगर मिले मौका देश के काम आने का
तो बिना कफ़न के ही देश के लिए सो जाऊंगा.


कोई हस्ती कोई मस्ती कोई चाह पे मरता है
कोई नफरत कोई मोहब्बत कोई लगाव पे मरता है
यह देश है उन दीवानों का यहां
हर बंदा अपने हिंदुस्तान पे मरता.


इतना सुन्दर जीवन दिया Hum
कई लोगो की कुर्बानी ने
फैशन ने अंधा कर दिया Hum
जोश भरी जवानी में
Kya समझेंगे Hum सौगाद मिले इस आजादी का
कभी सहा नहीं दर्द Humने गुलामी का.


बचपन का वो भी एक दौर था
गणतंत्र में भी ख़ुशी का शौर था
ना जाने क्यूँ मैं इतना बड़ा हो गया
इंसानियत में मज़हबी बैर हो गया.


2022 गणतंत्र दिवस की शायरी हिंदी में

2022 गणतंत्र दिवस की शायरी हिंदी में

मैं इसका हनुमान हूँ ये देश मेरा राम है
छाती चीर के देश लो अंदर बैठा हिंदुस्तान है.


Woh shama jo kaam aaye anjuman ke liye,
Woh jazba jo qurban ho jaaye watan ke liye.
Gantantra Diwas Ki Hardik Shubh Kamnaye.


Mere desh ke nau jawano
Abhi tak markar dekha
Bewafa sanam ke liye
Duptta na mila hai kafan ke liye.
Ek Bar markar dekho watan ke liye
Tiranga milega kafan ke liye.


Alag hai Bhasha, Dharam Jaat
Aur prant, bhesh, parivesh
Par hum sab ka ek hai gaurav
Rashtradhwaj Tiranga shrestha


Indian hone par kariye garv,
Milke manaayen loktantra ka parv
Desh ke dushmanon ko milke harao
Har ghar par TIRANGA lehrao.


Ye baat hawao ko bataye rakhna,
Roshni hogi chirago ko jalaye rakhna,
Lahu dekar jiski hifazat humne ki,
Aise Tirange ko sada dil me basaye rakhna.


Latest Happy Republic Day Shayari In Hindi

Latest Happy Republic Day Shayari In Hindi

सरफ़रोशी की तमन्ना अब Humारे दिल में है
देखना है जोर कितना बाजु ए कातिल में है.


ज़माने भर में मिलते हैं आशिक कई
लेकिन वतन से खूबसूरत कोई सनम नहीं होता
नोटों में लिपटकर, सोने में सिमट कर मरे हैं कई
मगर तिरंगे से खूबसूरत कोई कफ़न नहीं होता.


यही खुवाहिश Khudi हर जन्म हिन्दुस्तान वतन देना,
अगर देना तो दिल में देशभक्ति का चलन देना,
न दे दोलत न दे शोहरत, कोई शिकवा नही Humko,
झुका दूँ सर मै दुश्मन का यही हिम्मत का घन देना,
अगर देना तो दिल में देशभक्ति का चलन देना.


न पाल हिन्दू मुस्लिम का बैर
मेरी माँ के प्यार को न बना इतना गैर
उसके दिल में सभी समान हैं
सब मिलकर रहे इसी में उसकी शान हैं.


तैरना है तो समंदर में तैरो,
नदी नालों में Kya रखा है,
प्यार करना है तो वतन से करो,
इन बेवफ़ा लोगों में Kya रखा है।


दिल के तार जुड़ गए हैं उससे
बेवफाई ना होगी मुझसे
उसकी भक्ति में ही सुकून हैं
ऐ भारत माँ Kya तूझे मेरा मस्तक कुबूल हैं.


So Friends This Was The Best Ever Collection Of Republic Day Quotes. We Have Collected These गणतंत्र दिवस शायरी, गणतंत्र दिवस की शायरी, गणतंत्र दिवस की शायरी, गणतंत्र दिन पर शायरी, 26 january shayari, Republic Day Shayari, 26 जनवरी शायरी हिंदी में With All Your Friends.

Don’t Forget To Comment Below And Tell Us Which Quote or Shayari Did You Like the Most.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *