India Shayari

20210614 162733 1

65+ Heart Touching Bharosa Shayari | Shayari on Bharosa

हमारे जीवन में कई बार हम दूसरों पर बहुत विश्वास करते हैं। हमें लगता है कि वे हमारी परवाह करेंगे और हमें समझेंगे लेकिन कई बार हर बात उलटी हो जाती है। वे हमारी भावनाओं की परवाह किए बिना हमारा विश्वास तोड़ देते हैं। सच कहूं तो यह हमारे जीवन का सबसे बुरा पल होता है। हम उदास और क्रोधित हो जाते हैं। तो आज हम लाए हैं भरोसा पर भरोसा शायरी और शायरी का अब तक का सबसे बेहतरीन कलेक्शन। इस संग्रह को पढ़ें और आप इन शायरी से खुद को जोड़ पाएंगे। आप इन्हें उन लोगों के साथ साझा कर सकते हैं जिन्होंने आपकी भावनाओं को ठेस पहुंचाई है।

Many Times In our Life We Believe Strongly On Others. We think that they will Care For Us And Understand Us But Many times Every Thing Goes Opposite. The Break Our Believe Without Caring About Our Emotions. To Tell The Truth, This Is The Worst Moment Of Our Life. We Go Sad And Angry. So Today We Have Brought the Best Ever Collection Of Bharosa Shayari And Shayari on Bharosa. Read This Collection And You Will Be Able To Relate Yourself With These Shayari. You Can Share These With Those Who Have Hurt Your Feelings.

Bharosa Shayari In Hindi

Bharosa Shayari In Hindi

हमें अपनी मोहब्बत पर इतना यकीन तो है…
वो मुझे छोड़ तो सकता पर भुला नहीं सकता!


यूं तो हर गुनाह का कफ़ारा नहीं होता,
उठ जाए जो एक दफा भरोसा दुबारा नहीं होता।


प्यार और भरोसा दो ऐसे पंछी हैं,
अगर इनमें से एक उड़ जाए तो,
दूसरा अपने आप उड़ जाता है।


झड़ गए पत्ते उम्मीदों के सारे,
मग़र जड़ भरोसे की मजबूत बहुत है।


गिर पड़े उस पत्थर से टकरा कर ज़मीं पर हम,
भरोसे की नीव कह जिसे कभी अपनों ने रखा था।


कोई भरोसे के लिए रोता है,
कोई भरोसा करके रोता है।


रिश्ते दिल टूटने पर नहीं
भारोसा टूटने पर बिखरते है।


Bharosa Shayari On Jindagi

Bharosa Shayari On Jindagi

जो लम्हा साथ है उसे जी भर के जी लो,
कमबख्त ये ज़िन्दगी भरोसे के काबिल नही


खुद में काबिलियत हो तो भरोसा कीजिये साहिब।
सहारे कितने भी अच्छे हो साथ छोड जाते है.


नसीब से ज्यादा भरोसा किया था तुम पर,
नसीब इतना नहीं बदला जितना तुम बदल गये


कुछ रूठे हुए लम्हें कुछ टूटे हुए रिश्ते..
हर कदम पर काँच बनकर जख्म देते हैं


प्यार गहरा हो या ना हो पर भरोसा गहरा होना चाहिये.


मोहब्बत क्या है चलो दो लफ्ज़ो में बताते है,
तेरा मजबूर कर देना मेरा मजबूर हो जाना।


निगाहों में अभी तक दूसरा कोई चेहरा ही नहीं आया
भरोसा ही कुछ ऐसा था तुम्हारे लौट आने का


Relationship Shayari on Bharosa

Relationship Shayari on Bharosa

भरोसा रिश्ते की सब से महंगी और सब से पहली शर्त है!


विश्वास जीतना बड़ी बात नहीं है,
विश्वास बनाए रखना बड़ी बात है।


नसीब से ज्यादा भरोसा तुम पर किया,
फिर भी नसीब इतना,
नहीं बदला जितना तुम बदल गए।


मैंने तुम पर भरोसा किया,पर तुमने मुझे धोखा दिया,
अब किसी और पे ना भरोसा होगा,और ना किसी से दोबारा प्यार होगा।


हम समझदार भी इतने हैं,के उनका झूठ पकड़ लेते है,
और उनके दिवाने भी इतने,के फिर भी यकीन कर लेते हैं।


लोगों के पास बहुत कुछ है,
मगर मुश्किल यही है कि,
भरोसे पे शक है और, अपने शक पे भरोसा है।


वह साहिल से देखता रहा, डूबने का मंज़र,
हम भी ज़िद्दी थे डूब गए,
मगर पुकारा नही उसे।


Sad Shayari on Bharosa

Sad Shayari on Bharosa

जब दोस्ती में सम्मान और विश्वास होता है,
तब यह रिश्ता हर रिश्तें से गहरा एहसास होता है.


Mere Dil Ki Sarhad Paar Na karna,
Nazuk hai mera Dil Waar Na Karna,
Khud Se badhkar Bharosa he Aap Par,
is Bharose ko Sarmsar Na karna.

मेरे दिल कि सरहद को पार न करना,
नाजुक है दिल मेरा वार न करना,
खुद से बढ़कर भरोसा है मुझे तुम पर,
इस भरोसे को तुम बेकार न करना।


Dil ka dard ek raaz banke reh gaya,
Mera bharosa mazak banke reh gaya,
Dilo ke saudagar se dillagi kar bethe,
Shayad is liye mera pyaar mazak ban ke reh gaya.

दिल का दर्द एक राज बनकर रह गया,
मेरा भरोसा मजाक बनकर रह गया,
दिल के सोदागरो से दिललगी कर बैठे,
शायद इसीलिए मेरा प्यार इक अल्फाज बनकर रह गया।


मोहब्बत कोई चीज़ नही,
जिसे पैसे से हासिल किया जा सके,
इश्क़ कोई मुक़द्दर नहीं,
जिसे तक़दीर पे छोड़ा जा सके,
प्यार तो एक विश्वास है,
भरोसा है, ऐतबार है,
पर मोहब्बत इतनी आसान नही की किसी से भी किया जा सके!!!

Mohabbat Koi Cheez Nahi,
Jise Paise Se Hasil Kiya Ja sake,
Ishq Koi Mukaddar Nahi,
Jise Takdeer Pe Choda Ja Sake,
Pyaar Tho Ek Vishwas Hai,
Bharosa Hai, Aitbaar Hai,
Par Mohabbat Itni Aasaan Nahi Ki Kisi Se Bhi Ki Ja Sake.


Pyar me koi to dil tod deta hai,
Dosti me koi to bharosa tod deta hai,
Zindagi jina to koi gulab se sikhe,
Jo khud toot kar do dilo ko jod deta hai.

प्यार में कोई तो दिल तोड़ देता है,
दोस्ती में कोई तो भरोसा तोड़ देता है,
ज़िंदगी जीना तो कोई ग़ुलाब से सीखे,
जो खुद टूट कर दो दिलों को जोड़ देता है।


लाखों तूफान उठे है इस दिल में
तुजे देखने के बाद काश
जुल्फों की काली घटाओं से ढक पाऊ
ये चाँद सा चेहरा तेरा


पल पल से बनता है एहसास,
एहसास से बनता है विश्वास,
विश्वास से बनते हैं कुछ रिश्ते,
और उन रिश्तों से बनता है कोई खास।


Heart broken Bharosa Shayari

 Heart broken Bharosa Shayari

आप जिस पर आँख बंद करके भरोसा करते हैं,
अक्सर वही आप की आँखें खोल जाते है।


आजकल लोगो पे क्या भरोसा करे…
यहाँ तो दिल के रिश्ते भी दिमाग से निभाये जाते है…!


सिखा दिया दुनिया ने मुझे अपनो पर भी शक करना
मेरी फितरत में तो गैरों पर भी भरोसा करना था..!!


कमाल का होंसला दिया है हम इंसानों को रब ने,
भरोसा अगले पल का नही , वादें फिर भी जन्मों के करते है….!


भरोसा तोड़ने वाले के लिए बस यही एक सज़ा काफ़ी है…
उसको ज़िन्दगी भर के लिए ख़ामोशी तोहफ़ेे में दे दी जाए


लोगों के पास बहुत कुछ है मगर मुश्किल यही है कि…
भरोसे पे शक है और अपने शक पे भरोसा हैं…!!


लोगों पर भरोसा करते वक्त ज़रा सावधान रहिये….
क्यूँकी फिटकरी और मिश्री एक जैसे ही नजर आते है..


ALSO READ ( ये भी पढ़े ) :-

Maut Shayari

Intezaar shayari

Ishq Shayari

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *