India Shayari

20210528 134207

(50+ Best Ishq Shayari Collection  Shayari on Ishq Hindi

Hello Friends Today We Are Sharing the Best Ever Collection Of Ishq Shayari In Hindi. You May Be In  Love With Someone Without Whom You Can’t Even Imagine To Be Happy.

You May Surely Wanted To Express Your Feelings With Them  But You May Not Be Successful In Expressing Your Feelings.

Don’t Worry We Have Bought These Awesome Shayari On Ishq Collection. You Can Send These To Those Whom You Love And Thus Easily Express Your Feeling To Them

Ishq shayari In Hindi

 

Ishq shayari In Hindi

 

इश्क़ का रोग तो विर्से में मिला था मुझ को
दिल धड़कता हुआ सीने में मिला था मुझ को


होशवालों को खबर क्या…
बेखुदी क्या चीज़ है…
इश्क कीजिये…फिर समझिये…
ज़िन्दगी क्या चीज़ है!


जाने कब उतरेगा क़र्ज़ उसकी मोहब्बत का . .
हर रोज आँसुओं से इश्क की किस्त भरते हैँ


बहती हुई आँखों की रवानी में मरे हैं,
कुछ ख्वाब मेरे ऐन जवानी में मरे हैं,
इस इश्क ने आखिर हमें बरबाद किया है,
हम लोग इसी खौलते पानी में मरे हैं,
कब्रों में नहीं हमको किताबों में उतारो,
हम लोग मोहब्बत की कहानी में मरे हैं।


मैं भी हुआ करता था वकील इश्क वालों का कभी….
नज़रें उस से क्या मिलीं आज खुद कटघरे में हूँ


भटक जाते हैं लोग अक्सर
इश्क़ की गलियों में,
इस सफर का कोई इक
नक्शा तो होना चाहिए।


Ishq Wali Shayari 2021

 

Ishq Wali Shayari 2021

 

इश्क़ में पहले तो बीमार बना देते हैं
फिर पलटते ही नहीं रोग लगाने वाले


दिल इश्क से
बंधा हुआ एक
जिद्दी परिंदा है !
उम्मीदों से ही घायल है
उम्मीदों पर ही जिंदा


कितनी मासुम है दिल की
ख्वाहिश
इश्क भी करना चाहता है और
खुश भी रहना चाहता है


नयनों से नैन मिलाकर, महोब्बत का इजहार करूँ
बन कर ओस की बुँदे., जिन्दगी तेरी गुलजार करूँ
संवर जाएगी तेरी मेरी जिन्दगी, इश्क के सफर में
थाम ले तू हाथ मेरा, मैं तेरे हर वादे पे ऐतबार करूँ


दुनिया में तेरे इश्क़ का चर्चा ना करेंगे,
मर जायेंगे लेकिन तुझे रुस्वा ना करेंगे,
गुस्ताख़ निगाहों से अगर तुमको गिला है,
हम दूर से भी अब तुम्हें देखा ना करेंगे।


इश्क है वही जो हो एक तरफा;
इजहार है इश्क तो ख्वाईश बन जाती है;
है अगर इश्क तो आँखों में दिखाओ;
जुबां खोलने से ये नुमाइश बन जाती है


Shayari Ishq Hindi

 

Shayari Ishq Hindi

 

इश्क़ का रोग उन के बस का नहीं
दूर से वो सलाम करते हैं


Ishq Ne Kab Izaazat Li Hai Aashiqon Se,
Wo Hota Hai Aur Hokar Hi Rehta Hai.

इश्क ने कब इजाजत ली है आशिकों से,
वो होता है और होकर ही रहता है।


Dekhte Hain Ab Kya Mukaam Aata Hai Saahab,
Sukhe Patte Ko Ishq Hua Hai Bahti Hawa Se.

देखते हैं अब क्या मुकाम आता है साहब,
सूखे पत्ते को इश्क हुआ है बहती हवा से।


Junun-E-Ishq, Nahi Raas Aaya Hamein,
Jab Bhi Dekha Aaina, Aks Unka Hi Najar Aaya Hamein,

जूनून-ए-इश्क, नहीं रास आया हमें,
जब भी देखा आइना, अक्स उनका ही नजर आया हमें।


Bahut Mehngi Hui Ab To Wafa,
Log Kaha Milte Hai Jo Sachcha Pyar Kare,
Mohabbat To Ban Gai Hai Ab Saza,
Aashiq Kaha Milte Hai,
Jo Sang-Sang Ishq Ka Dariya Paar Kare.

बहुत महँगी हुई अब तो वफा,
लोग कहाँ मिलते हैं, जो सच्चा प्यार करें,
मोहब्बत तो बन गई है अब सजा,
आशिक कहाँ मिलते हैं,
जो संग-संग इश्क का दरिया पार करें।


Deewana Har Shakhs Ko Bana Deta Hai Ishq,
Sair Jannat Ki Kara Deta Hai Ishq,
Mareej Ho Agar Dil Ke To Kar Lo Ishq,
Kyuki Dhadkana Dilo Ko Sikha Deta Hai Ishq.

दिवाना हर शख़्स को बना देता है इश्क़,
सैर जन्नत की करा देता है इश्क़,
मरीज हो अगर दिल के तो कर लो इश्क़,
क्योंकि धड़कना दिलों को सिखा देता है इश्क़।


Shayari On Ishq

 

Shayari On Ishq

 

हम एस कदर तुम पर मर मिटेंगे
तुम जहाँ देखोगे तुम्हे हम ही दिखेंगे


फिर उसने मुस्कुरा के देखा मेरी तरफ़
फिर एक ज़रा सी बात पर जीना पड़ा मुझे


इश्क़ का इम्तिहान आसान नही
प्यार सिर्फ पाने का नाम नही
मुदते बीत जाती है किसी के इंतजार में
ये सिर्फ लम्हे दो लम्हे का काम नही..


दूर कही मेरी नज़रों से रहता है वो 
हर लम्हा मेरे ख्यालो में रहता है वो
कैसा है वो किस हाल में है वो
दिल के मेरे हर सवाल में रहता है वो….


ज़िंदगी है नादान इसलिए चुप हूँ 
दर्द ही दर्द सुबह शाम इसलिए चुप हूँ
कह दू ज़माने से दास्तान अपनी 
उसमे आएगा तेरा नाम इसलिए चुप हूँ….


तनहाइयों मे मुस्कुराना इश्क़ है
इस बात को सब से छुपाना इश्क़ है
यूँ तो नींद नही आती हमें रात भर
मगर सोते सोते जागना और
जागते जागते सोना इश्क़ है…


Love Ishq Shayari Hindi

 

Love Ishq Shayari Hindi

 

आना तुम्हारा बहार ले आता है ,
मेरा मन तब मेरा ही ना रह पाता है।


इश्क़ का रोग उन के बस का नहीं
दूर से वो सलाम करते हैं


साहिल-ए-मर्ग पे रफ़्ता रफ़्ता ले आया
तन्हाई का रोग भी अच्छा दुश्मन है


इश्क़ आसाँ है मगर रोग है दीवानों का
बार-ए-ग़म यूँही बहुत है उसे दो-चंद न कर


घटे तो चैन नहीं है बढ़े तो चैन नहीं
हमें लगा है ये क्या रोग कोई पहचाने


रोग ऐसे भी ग़म-ए-यार से लग जाते हैं
दर से उठते हैं तो दीवार से लग जाते हैं


Other Posts :-

Karma Quotes Hindi

Sad Status In Hindi

100 + Romantic Shayari In hindi

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top